Bike Parcel in Train: इन बातों का ध्यान रखे नहीं तो झेलनी पड़ेगी नुकसान

bike parcel in train

Bike Parcel in Train: बाइक या स्कूटी ट्रेन से पार्सल करवाना चाहते है तो आपको थोड़ा संभल के रहना पड़ेगा, अगर आप एक शहर से दूसरे शहर मे पार्सल करवाना चाहते है तो आप ट्रेन से भेज सकते है,

लैकिन अगर आप पास मे किसी दूसरे शहर मे पार्सल करवाना चाहते है तो आप खुद ही ड्राइव कर के चले जाये,ऐसा क्यों मे आपको आगे बताऊँगा, बाइक या स्कूटी ट्रेन से पार्सल करवाना बहुत ही आसान है,

लैकिन कभी कभी बहुत बड़ा नुकसान भी हो जाता है, आपकी गाड़ी स्करच हो जाती है या कोई पार्ट टूट जाता है ऐसा अक्सर देखने को मिलता है ।

Bike Parcel In Train
Image Source-instagram.com |Image by-faizan1661

Bike Parcel in Train: पार्सल करवाने से पहले ये काम जरूर करे

Bike Parcel in Train: अगर आप ट्रेन से बाइक या स्कूटी पार्सल करवाना चाहते है तो सबसे पहले आपके पास ट्रेन टिकट होना जरूरी है, बिना ट्रेन टिकट के आप बाइक पार्सल नहीं करवा सकते है

अगर आप जिस ट्रेन मे सफर कर रहे उसी ट्रेन मे पार्सल करवा रहे तो आपको कोई प्रॉब्लेम नहीं होगी, आप उस टिकट से अपनी बाइक या स्कूटी पार्सल करवा सकते है ।

लैकिन अगर आप सफर नहीं कर रहे और आप पार्सल करवाना चाहते है तो आपको अलग से एक टिकट लेनी पड़ेगी उस ट्रेन की जिस ट्रेन मे आप पार्सल करवाना चाहते है, क्यों पीएनआर नंबर होना अनिवार्य होता है

Ullu: उल्लू की टॉप वेबसीरीज आपके होस हवास उड़ा देगी लिस्ट देखे

उसके साथ आपके गाड़ी की RC इन्श्योरेन्स पेपर, एक government आइडी प्रूफ की जरूरत पड़ेगी, ये तीन पेपर अगर आपके पास होगी तभी आप रेल्वे से पार्सल करवा सकते है।

Bike Parcel in Train

Steps:

  • सबसे पहले अपने पास के रेल्वे स्टेशन 5 घंटे पहले जाये
  • उसके बाद आपको खुद से बाइक या स्कूटी को पॅकिंग करवाना पड़ेगा जिसके लिए आपको 200     रु के आस पास खर्च करने पड़ेंगे
  • उसके बाद रेल्वे स्टेशन पर आपको ये फोरम फिल करना पड़ेगा जिसमे अपकी गाड़ी की डिटेल्स और अपकी डिटेल्स फिल करनी पड़ती है
  • फोरम भरने के बाद आपको वाहन से एक टिकट प्रूफ मिलेगा जिसमे अपकी गाड़ी की डिटेल्स होगी
  • फिर आपको वहाँ पर पेमेंट करनी पड़ेगी, पार्सल का चार्ज अपकी गाड़ी का 1% लगभग पे करना पड़ेगा, जितनी महंगी गाड़ी होगी उतना ज्यादा आपको पे करना पड़ेगा,
  • अगर अपकी गाड़ी की कीमत 70000 है तो आपको लगभग 700 रु देने होंगे
  • उसके बाद आपको बाइक या स्कूटी को खुद से उस ट्रेन मे लोड करवाना पड़ेगा।
  • फिर अपकी बाइक या ट्रेन अपकी डेस्टिनेशन पर पहुच जाती है ।
  • उसके बाद आप वहाँ से अपनी बाइक या स्कूटी कालेक्ट कर सकते है
  • याद रखे डेस्टिनेशन पॉइंट पर पार्सल पहुचने के बाद 6 घंटे के भीतर आपको गाड़ी कालेक्ट करनी पड़ेगी, नहीं तो 6 घंटे के बाद हर एक घंटे के लिए आपको 10रु पार्किंग चार्ज देना होगा ।
Bike Parcel in Train
Image Source-instagram.com |Image by-parveenexpress2013

Bike Parcel in Train: इन बातों का रखे ध्यान नहीं तो हो सकता है नुकसान

Bike Parcel in Train: अगर आप ट्रेन से बाइक या स्कूटी पार्सल करवा रहे तो आपको कुछ बातों का खयाल रखना पड़ेगा,

Hollywood Upcoming Movie List: इंतज़ार हुआ खत्म जल्द रिलीज हो रही ये फिल्मे

सबसे पहले जब आप पेट्रोल उतना ही रखे जीतने मे आप रेल्वे स्टेशन पहुच सके,बाइक या स्कूटी की पॅकिंग करवाते है तो उससे पहले पेट्रोल टंक को खाली कर दिया जाता है, और उस पेट्रोल को आप केरी भी नहीं कर सकते है।

अगर अपने बाइक या स्कूटी मे कुछ एक्स्ट्रा पार्ट्स लगवाया है तो उसे निकाल ले, क्यों की ऐसा भी होता है की आपके डेस्टिनेशन पॉइंट तक पहुचने के बाद आपको वो न मिले, तो इस बात का जरूर ध्यान रखे ।

Difference Between Smart Tv And Android Tv: खरीदने से पहले ये जरूर समझे

पॅकिंग करवाते समय खुद से अछे तरीके से पॅकिंग करवाए ताकि ट्रेन मे लोडिंग करवाते समय और उतरते समय अपकी गाड़ी को कोई नुकसान न पहुचे, नहीं तो आपका बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है।

About The Author

Scroll to Top